गोरखनाथ मंदिर की दुकानें टूटीं , गोरखपुर वासियों को मिलेगा जाम से छुटकारा

गोरखपुर : गोरखनाथ मंदिर की दुकानें टूटीं, गोरखपुर शहर के मोहद्दीपुर से जंगल कौड़िया तक 17 किलोमीटर लंबे फोरलेन के निर्माण में आड़े आ रहीं गोरखनाथ मंदिर की दुकानों को तोङना शुरु कर दिया है ।

दुकानो को तोङने का कार्य जारी है , मंदिर परिसर से जुड़ी करीब 50 दुकानें तोड़ी जानी हैं। इन दुकानों को तोड़ने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले ही अनुमति दे दी थी। 

गोरखपुर के मोहद्दीपुर से जंगल कौड़िया तक लगभग 17 किलोमीटर लंबे फोरलेन के निर्माण में आड़े आ रहीं गोरखनाथ मंदिर परिसर से सटी करीब दो दर्जन दुकानों को तीन दिन में ध्वस्त कर दिया गया है। PWD पिछले तीन दिनों से गोरखनाथ ओवरब्रिज से मंदिर की तरफ जाने वाली दुकानों को तोड़ रहा है।

गोरखपुर वासियों को मिलेगा जाम से मुक्ति

जैसा कि आप जानते ही होंगे गोरखनाथ के करीब मे आपको घंटो जाम मे जुझना पङता था , लेकिन अब फोरलेन निर्माण कार्य के पुरा होने के बाद से गोरखपुर शहर वासियों को जाम से मुक्ति मिलेगा ।

दुकानों की जगह दुकान और मकान की जगह मिलेंगे मकान

गोरखनाथ मंदिर के सचिव द्वारिका तिवारी ने बताया कि इन सभी दुकानदारों को नई दुकान और मकान बना कर दिए जाएंगे। इसके लिए सब्जी मंडी में पांच मंजिला भवन तैयार हो रहा है, जिसमें दुकानों का निर्माण होगा। जिनके मकान टूटे हैं, उन्हें मकान भी दिया जाएगा। जिनके मकान टूटे हैं, उन्हें मकान भी दिया जाएगा। छह महीने के अंदर दुकानें और अधिकतम एक साल के अंदर मकान बनाकर दे दिए जाएंगे।

Leave a Comment