कोरोना से जंग जीत चुकी महिला डॉक्टर ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखा – परिवार को परेशान न करें

देवरिया जिले के पिपरा दौला कदम पीएचसी पर तैनात महिला डॉक्टर का फांसी लगाकर खुदकुशी करने का मामला सामने आया है । इस मामले के सामने आने के बाद हङकम्प मच गया है ।

कुशीनगर जिले के पडरौना की अंबेडकर नगर निवासी महिला डॉक्टर ने अपने कमरे में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली ।

वह करीब एक महिने पहले कोरोना की चपेट में आई थीं। महिला डॉक्टर की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उन्हे गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया था, इलाज के बाद स्वस्थ होने पर वह घर आ गई थीं।

कोरोना को लेकर लोग उनसे दूरी रखते थे, जिससे वह मानसिक अवसाद से गुजर रही थी। ऐसे में गुरुवार की देर शाम जब डॉक्टर के परिवार के लोग घर से बाहर थे, तब उन्होंने फंदे से लटककर खुदखुशी कर ली ।

महिला डॉक्टर का नाम सविता यादव बताया जा रहा है, पडरौना के अंबेडकर नगर निवासी अंकुर यादव उनके पति है जो कि एमआर हैं और उनकी एक छह साल की बेटी भी है।

इस हादसे के बाद सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कमरे से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें लिखा है कि आत्महत्या उनका खुद का निर्णय है। इसके लिए उनके पति व परिवार को परेशान न किया जाए। 

Leave a Comment