अखिलेश यादव ने लगाया गोरखपुर महोत्सव पर धन उगाही का आरोप

गोरखपुर : अखिलेश यादव यानि की उत्तर प्रदेश के पुर्व मुख्यमंत्री ने गोरखपुर महोत्सव पर सवाल उठाया और आरोप लगाते हुवे कहा है कि गोरखपुर महोत्सव के नाम पर धन उगाही किया गया है ।

अखिलेश यादव ने ट्विट करते हुवे कहा है –

” गोरखपुर महोत्सव में न हर्ष है, न उत्सव. जनता का प्रदेश की भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ जो क्रोध-आक्रोश है उसी के कारण इतने लोकप्रिय कलाकारों के बावजूद भी लोग नहीं आए हैं. सुनने में तो ये भी आया है कि महोत्सव के नाम पर पैसा उगाही भी हो रही है. “

अखिलेश यादव के अनुसार जनता का गुस्सा भाजपा सरकार पर है जिसके वजह से वे गोरखपुर महोत्सव मे नही आये । उनका कहना है कि महोत्सव मे इतने अच्छे – अच्छे कलाकारो के आने के वावजुद भी लोग नही आये इसका मतलब लोग भाजपा सरकार के व्यव्स्था के वजह से नाराज है ।

पुर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने अपने ट्विट मे एक अखबार के माध्यम से यह भी कह दिया की गोरखपुर महोत्सव के नाम पर धन उगाही हो रही है ।

क्यु रही महोत्सव की कुर्सिया खाली

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे , गोरखपुर महोत्सव मे सामने के सभी कुर्सिया खाली रह गयी थी , जिसका कारण यह था कि शहर के वरिष्ठ लोगो और साथ ही व्यापारीयो को भी पास उपलभ्ध नही कराया गया था , जिसका असर महोत्सव मे देखने को मिला है । गोरखपुर महोत्सव के आयोजकों के मनमानी पास बाटा जिसकी वजह से शहर के वरिष्ठ लोगो को भी पास न मिल सका और लोगो ने अपना गुस्सा सोशल मिडिया के माध्यम से व्यक्त किया है ।

इस बार गोरखपुर महोत्सव की कितनी भी अच्छी तैयारी की गयी थी , लेकिन पास समय से सही जगह नही पहुचा उसका नतिजा सोशल मिडिया पर देखने को मिल रही है ।

Leave a Comment